एनीमिया का इलाज

एनीमिया का इलाज Cure for anemia hindi, anemia ka ilaj

Health tips in hindi

एनीमिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर में खून की कमी होती है. डॉक्टर इसके लिए अनेक दवाएं खिलाते हैं लेकिन अपनी दिनचर्या में आसन-प्राणायाम को शामिल कर आप इस बीमारी से तो मुक्ति पा ही सकते हैं, शरीर को मजबूत भी बना सकते हैं. जब शरीर के रक्त की लाल कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन नामक पदार्थ का स्तर सामान्य से नीचे हो जाता है तो उस अवस्था को एनीमिया के नाम से जाना जाता है. जब हीमोग्लोबिन की मात्र कम हो जाती है तो रक्त की ऑक्सीजन वहन करने की क्षमता कम हो जाती है.

इससे उत्साह में कमी, थकान, बदन दर्द, सिर दर्द, चक्कर आना, अरुचि जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं. योग के अभ्यास से एनीमिया की समस्या का समाधान सरलता से किया जा सकता है. इस समस्या का मूल कारण मन तथा भावनाओं का असंतुलन है जो अंत में शरीर को कमजोर एवं रोगी बना देता है. योग शरीर, मन एवं भावनाओं को स्वस्थ कर सम्पूर्ण स्वास्थ्य की रक्षा करता है. इसके लिए कुछ यौगिक क्रियाएं हैं जिनका अभ्यास कर आप एनीमिया की समस्या में राहत पा सकते हैं.

loading...

इन्हे भी जाने…. सुंदरता पाने के घरेलू उपचार

इन्हे भी जाने…. सांवली त्वचा निखारने के घरेलू नुस्खे

इन्हे भी जाने…. रोके अपनी बढ़ती हुई उम्र की रफ़्तार को

इन्हे भी जाने…. नाखूनों को सुंदर बनाने के घरेलू उपचार और उपाय

एनीमिया के लिए आसन exercise for anemia

एनीमिया के रोगी में कमजोरी तथा उदासी के लक्षण अधिक देखने को मिलते हैं. इसलिए उन्हें कठिन तथा अधिक मात्र में आसनों के अभ्यास की सलाह नहीं दी जाती है. इस स्थिति में प्रारम्भ में सूर्य नमस्कार के एक या दो चक्र, वज्रासन, पवनमुक्तासन, मर्करासन, तितली आसन, गोमुख आसन, मण्डूक आसन आदि का ही अपनी क्षमता के अनुसार अभ्यास करना चाहिए. जैसे-जैसे स्थिति में सुधार होता जाए, अभ्यास में धीरे-धीरे धनुरासन, भुंजगासन, अर्धमत्स्येन्द्रासन जैसे कठिन आसनों को जोड़ा जा सकता है.

तितली आसन butterfly asan

दोनों पैरों को सामने की ओर फैलाकर बैठ जाइए. फिर, दोनों पैरों को घुटनों से मोड़कर इनके तलवों को आपस में सामने की ओर इस प्रकार सटाइए कि एड़ियां जननेन्द्रिय के पास में या नीचे आ जायें. दोनों हाथों से पैरों के पंजों को दृढ़तापूर्वक पकड़कर घुटनों को जमीन से ऊपर उठाइए और नीचे कीजिए. यह क्रिया सुविधानुसार 25 से 50 बार कीजिए. फिर वापस पूर्व स्थिति में आइए.

इन्हे भी जाने…. पिंपल्स को हटाने के घरेलू नुश्खे

इन्हे भी जाने…. गंजेपन का इलाज या गंजेपन रोकने के उपाय

प्राणायाम yoga

एनीमिया के रोगी के लिए सरल कपालभाति के साथ नाड़ीशोधन तथा भ्रामरी प्राणायाम का अभ्यास बहुत लाभकारी सिद्ध होता है. इसके अभ्यास से शरीर के सभी अंगों को पर्याप्त पोषण मिलता है. इससे मानसिक शांति तथा एकाग्रता भी प्राप्त होती है.

भ्रामरी प्राणायाम

ध्यान के किसी भी आसन में रीढ़, गला व सिर को सीधा कर बैठ जाएं. एक दीर्घ श्वास अंदर लेकर कानों को हाथ के अंगूठे या किसी भी अंगुली से सहजता के साथ बंद कर लें. अब नाक या गले से भौंरे जैसी आवाज निकालें. आवाज निकालते समय प्रश्वास नियंत्रित ढंग से बाहर निकलने दें. यह भ्रामरी प्राणायाम की एक आवृत्ति है. इसकी दस-पन्द्रह आवृत्तियों का अभ्यास करें.

इन्हे भी जाने…. थाईरायड ग्रथि से सम्बंधित रोग

इन्हे भी जाने…. शीघ्रपतन के घरेलू नुस्खे

अन्य उपाय

रोज सुबह-शाम टहलने जाएं. प्रात:काल नंगे बदन धूप में बैठें. नियमित रूप से सारे शरीर की मालिश करें. ठंडे पानी से स्नान करें और तौलिये से बदन को इस प्रकार रगड़ें कि त्वचा हल्की लाल हो जाए. प्रतिदिन योगनिद्रा एवं ध्यान करें. नींद भी भरपूर और नियंत्रित होकर लें. मानसिक तनाव और चिंता को विवेक द्वारा दूर करें.

इन्हे भी जाने…. प्रेगनेंसी मैं कोंन सी एक्सरसाइज करे

इन्हे भी जाने…. Kaan ya ears dard ka gherelu upchar

एनीमिया के लिए आहार food for anemia

गेहूं, चना, मोठ, मूंग को अंकुरित कर नींबू मिलाकर सुबह नाश्ते में खाएं. मूंगफली के दाने गुड़ के साथ चबा-चबा कर खाएं. पालक, सरसों, बथुआ, मटर, मेथी, हरा धनिया, पुदीना तथा टमाटर खाएं. फलों में पपीता, अंगूर, अमरूद, केला, सेब, चीकू, नींबू का सेवन करें. अनाज, दालें, मुनक्का, किसमिस, गाजर तथा पिंड खजूर दूध के साथ लें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!