चूहे और पहाड़ की कहानी

चूहे और पहाड़ की कहानी The story of the rat and the mountain, kids story in hindi

Bachho ki kahani hindi me

ये कहानी बच्चो के लिए है. एक बार पहाड़ और चूहे में बहस छिड़ गई. दोनों अपनी-अपनी बहादुरी की ड़ींग हाँकने लगे. पहाड़ ने कहा, “तुम बहुत ही असहाय और तुच्छ प्राणी हो!” चूहे ने जवाब दिया, मुझे पता है, मैं तुम्हारे जितना बड़ा नहीं हूँ.

इन्हे भी पढ़े…. कड़वी बहु की कहानी मोटिवेशनल कहानी

इन्हे भी पढ़े…. जब हो गयी बेटी नाराज

इन्हे भी पढ़े…. गोलगप्पे की कहानी

पर एक बात है तुम भी तो मेरे जितने छोटे नहीं हो. पहाड़ ने कहा, “इससे क्या हुआ? बड़े कद के बड़े फायदे हैं. मैं आकाश में उमड़ते-घुमड़ते बादलों को भी रोक सकता हूँ.” चूहे़ ने कहा, “तुम आकाश के बादलों को जरुर रोक सकते हो.

पर मैं अपनें नन्हे-नन्हे दाँतों से तुम्हारी जड़ में बड़े-बड़े बिल खोद ड़ालता हूँ. लेकिन तुम मुझे रोक नहीं सकते. बोलो, क्या रोक सकते हो. नन्हे चूहे़ ने अपनी चतुराई से पहाड़ का मुँह बंद कर दिया. शिक्षा -छोटा हो या बड़ा, अपनी-अपनी जगह सब महत्वपूर्ण होते हैं.

इन्हे भी पढ़े…. हैरान कर देने वाली अध्भुत कहानी

इन्हे भी पढ़े…. सम्मान और प्यार की एक अद्भुत कहानी

इन्हे भी पढ़े…. शनि देव की हार

इन्हे भी पढ़े…. लक्ष्य की अनोखी कहानी

तो बच्चो आपको ये चूहे और पहाड़ की कहानी किसी लगी इसके बारे मैं आप हमे जरूर बताये.

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!