पथरी के लक्षण और इसका इलाज

पथरी के लक्षण और इसका इलाज pathri ke lakshan aur iska ilaj

पथरी आज के समय में सभी को होने वाली आम बीमारी बनती जा रही है. पथरी शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती है. चाहे वो गुर्दा हो या फिर हाथ , पैर कही भी. पथरी का इलाज समय रहते कर लिया जाये.

तो अच्छा है नहीं तो इसके बढ़ने पर मेडिसिन नहीं बल्कि केवल ऑपरेशन से ही इस बीमारी को दूर किया जा सकता है. जब हमारे शरीर में कैल्शियम की मात्रा बढ़ने लगती हैं व शरीर को जरूरत के अनुसार कैल्शियम मिलने लगता हैं तो इससे पथरी बन जाती हैं.

ज्यादातर बिमारियों के होने के पीछे एक ही वजह होती है और वह है कम पानी पीना, यह जानते हुए भी की हमारा शरीर 75 % पानी से बना हुआ होता है फिर भी हम सही मात्रा में पानी नहीं पीते है. बचपन में मिटटी, इट आदि पदार्थ को खाना जिनमे कण मौजूद रहते है.

इनसे भी गुर्दे की पथरी बनने की पूर्ण सम्भावना रहती है. बहुत बार हम जोर से पेशाब आने पर भी पेशाब नहीं करते, यह भी गुर्दे की पथरी के लिए लापरवाही है. पेशाब आने पर पेशाब न रोके.

पथरी पेट या गुर्दे में बनना Pathri ka pet ya liver me banna

पेट में गुर्दे की पथरी कैसे बनती है इसकी शुरुआत कैसे होती है. पथरी होने के पीछे खास कारण पाचन तंत्र की विकृति होती है. हम रोजाना जो भोजन करते है उसमे से कुछ पदार्थ को पाचन तंत्र नहीं पचा पाता और फिर यही पदार्थ मूत्र द्वार पर इकट्ठे होते जाते हैं जिससे पेशाब गाढ़ी (गट्ठी ) होने लगती है.

इसी क्रिया के चलते धीरे-धीरे इन पदार्थों की मात्रा बढ़ती जाती है और फिर यह गुर्दे पथरी (बारीक पत्थर, रेत) का रूप ले लेती हैं. पथरी पेट में मौजूद इन केमिकल्स के कारण भी होती है, Uric acid, Phosphorous, Calcium and oxalic acid.

इस तरह जब यह पदार्थ कण में बदल जाते है तो पेट में दर्द, पेशाब करने में परेशानी आना आदि गुर्दे की पथरी के लक्षण दिखाई देना शुरू हो जाते हैं. पथरी में छोटे कण दर्द नहीं देते और वह पेशाब के जरिये बाहर निकल जाते है. लेकिन अगर किसी वजह से यह कण पेशाब के जरिये बाहर नहीं निकलते तो यह कण बढ़ा रूप ले लेते हैं और फिर आपको बड़ा असहनीय दर्द होने लगता हैं.

इन्हे भी जाने…. पिंपल्स को हटाने के घरेलू नुश्खे

इन्हे भी जाने…. गंजेपन का इलाज या गंजेपन रोकने के उपाय

इन्हे भी जाने…. थाईरायड ग्रथि से सम्बंधित रोग

इन्हे भी जाने…. शीघ्रपतन के घरेलू नुस्खे

इन्हे भी जाने…. प्रेगनेंसी मैं कोंन सी एक्सरसाइज करे

इन्हे भी जाने…. Kaan ya ears dard ka gherelu upchar

पथरी के बनने के लक्षण Pathri (stone) ke banne ke lakshan

पेट या गुर्दे में पथरी के निम्न लक्षण हो सकते है.

1.गुर्दे की पथरी का दर्द रुक-रुक कर होता है. जैसे 10 minutes के लिए दर्द होना और फिर अचानक व धीरे-धीरे दर्द का गायब होना.

2.बार बार कमर दर्द होना.

3.पेशाब होते समय दर्द का रहना.

4.पेशाब का रंग बदलना, पिला, गन्दा (Cloudy) colour में पेशाब का आना

5.कभी कभार यह पेशाब भूरी, गुलाबी और लाल रंग में भी आती है

6.पेशाब के अंदर कुछ अलग तरह की गंद का आना भी पथरी का कारण होता है.

7.भुखार आना, उलटी करना आदि

8.पथरी के दौरान रुक-रुक कर पेशाब आने लगती हैं

9.पथरी का दर्द बहुत असहनीय होता है आप इसमे न तो ठीक से बैठ पाते है, न खड़े रह पाते हैं और ना ही ठीक से सो पाते है.

पथरी का इलाज और उपाय Pathri ka ilaj aur upay

पथरी का इलाज और उपाय इस तरह से करने से आपको बहुत अधिक फायदा मिलेगा.

1.अनार का सेवन करें anar ka sevan kere

अनार के जूस और अनार के दाने दोनों में Astringent properties होती है जो की किडनी स्टोन ट्रीटमेंट में मदद करती हैं. रोजाना एक दो ताज़ा अनार खाने की आदत बनाये या फिर इसके जगह अनार का जूस पिए. आप रोजाना अनार को भोजन की सलाद में mix करके भी उपयोग कर सकते हैं.

अनार का सेवन इस तरह से करें – एक चम्मच अनार के दाने लें और फिर इन्ही Mixer और grinder में अच्छे से mix करके इनका paste बना लें फिर रोजाना इस paste को horse gram soup के साथ खाये. यह असरकारी घरेलु नुस्खा किडनी स्टोन को ख़त्म करने में बहुत मदद करता है.

इन्हे भी जाने…. सुंदरता पाने के घरेलू उपचार

इन्हे भी जाने…. सांवली त्वचा निखारने के घरेलू नुस्खे

इन्हे भी जाने…. रोके अपनी बढ़ती हुई उम्र की रफ़्तार को

इन्हे भी जाने…. नाखूनों को सुंदर बनाने के घरेलू उपचार और उपाय

2.निम्बू और जैतून के तेल से उपचार Nimbu aur jetun ke tel se upchar

निम्बू और जैतून के तैल का उपयोग खास कर पित्ताशय (gallbladder) में किया जाता है, लेकिन इसका उपयोग पथरी में भी किया जा सकता है. यह पथरी निकालने के लिए उन असरकारी घरेलु उपाय में से एक हैं जिससे पथरी के पत्थर बड़ी जल्दी से ख़त्म हो जाते है इसलिए इस घरेलु नुस्खे को पथरी के उपचार के लिए ख़ास माना जाता है.

इसका सेवन इस तरह से करें – चार चम्मच ताज़ा Lemon juice लें, और फिर इतनी ही मात्रा में Olive Oil लें, इसके बाद इन दोनों में थोड़ा पानी मिलाये और अच्छे से Mix कर लें. इस नुस्खे का उपयोग लगातार तीन दिन तक नियमति रूप से दिन में 2 से 3 बार करे. अगर यह नुस्खा 4-5 दिन में पथरी को बाहर निकालना शुरू न करे तो फिर दूसरे नुस्खे का उपयोग करे.

3.गेहू की घास के रस का सेवन करें Gehu ki ghaas k eras ka sevan kere

गेहूं की घास में मैग्नीशियम , पोटैशियम , आयरन , एमिनो एसिड्स , क्लोरोफिल और बी विटामिन्स पाए जाते है जो की निरोगी जीवन और पथरी, पेट से सम्बंधित रोगों के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. रोजाना 1 ग्लास गेहूं की घास का juice पिए. आप इस गेहूं की घास को तुलसी के पत्तों के साथ भी पि सकते हैं.

4.किडनी बीन्स से पथरी का इलाज Kidney beans se pathri ka ilaj

किडनी बीन्स पथरी का इलाज के लिए बहुत प्रसिद्द घरेलु उपाय माना जाता है. यह किडनी और ब्लंडर प्रॉब्लम और किडनी स्टोन का ट्रीटमेंट करने में बहुत उपयोगी होता हैं.

इसका सेवन ऐसे करें – इसके अंदर से बीज को निकाल लें और फिर इन्हे गर्म पानी में दाल दें. इसके बाद इस पानी को कम आंच में आग पर तब तक उबाले जब तक यह beans मुलायल न हो जाए. इस को मुलायम होने में बहुत समय लगता है 3-5 hours), फिर इन beans को दबाये, इनमे से निकलने वाले रस को रोजाना खाये.

याद रहे रस 24 घंटो से ज्यादा पुराना नहीं होना चाहिए, हर रोज ताज़े रस का ही सेवन करे. आप kidney beans को सालाद में मिलाकर भी खा सकते हैं इससे kidney pathri treatment में और भी मदद मिलेगी.

5.पथरी का एप्पल से इलाज Pathri ka apple cider vinegar se ilaj

एप्पल साइडर विनेगर पथरी के पत्थरो को निकालने में मदद करता है क्योंकि इसमे Alkalinizing effects होते है जो की खून और पेशाब पर सकारात्मक असर करता है.

इसका सेवन इस तरह से किया जाता है – दो बड़ी चम्मच “Organic apple cider vinegar” लें, फिर इसमे एक छोटी चम्मच शहद Mix कर ले. इसके बाद एक कप गर्म पानी लें और इनको आपस में Mix कर ले, इसका उपयोग दिन 2 से 3 बार करें.

6.पथरी का तुलसी के पत्ते से इलाज Pathri ka tulsi ke patte / leaf se ilaj

तुलसी के पत्ते हर रोग में काम देते हैं, यह किडनी स्टोन का ट्रीटमेंट भी करते है और साथ ही पेशाब के सभी रोगों को दूर करते हैं.

सेवन इस तरह से करें – एक चम्मच तुलसी के पत्तों का juice लें, एक चम्मच शहद मिलाये, फिर इन दोनों को आपस में Mix कर ले, रोजाना नियम से इस पथरी के इस नुस्खे का उपयोग करे. इसके साथ ही रोजाना तुलसी के पत्तों को चबाने की आदत बनाये. WARNING :- वैसे तुलसी के पत्तो को दांतो से चबाना हिन्दू धर्म में गलत माना जाता है.

7.पथरी का तरबूज से इलाज Pathri ka tarbuj / watermelaon se ilaj

तरबूज से गुर्दे की पथरी का उपचार करने का यह बहुत ही आसान इलाज है. हम सब जानते है की तरबूज में 75 percent से ज्यादा पानी पाया जाता है और तरबूज में कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जो की किडनी को मजबूत और healthy बनाते है. साथ ही गुर्दे की पथरी बनाने वाले पदार्थ को भी ख़त्म करता हैं.

आप रोजाना जितने ज्यादा तरबूज खाएंगे उतना ही पथरी पर असर पड़ेगा क्योंकि तरबूज में पानी ज्यादा पाया जाता है और इसको खाने से आपको पेशाब बहुत आएगी, और बार-बार पेशाब आने से पथरी पिघलना शुरू होगी इस तरह धीरे-धीरे गुर्दे की पथरी पेशाब के जरिये बाहर निकल जायेगी.

8.पथरी का अजवायन से इलाज Pathri ka ajwayan se ialj

अजवाइन में एंटी स्पास्मोडिक प्रॉपर्टीज होती है जो की पथरी के दर्द से राहत दिलाने में बहुत मदद करती हैं. अजवाइन पथरी बनाने वाले पदार्थों का खात्मा करती है, और इसके साथ अजवाइन का सेवन पेशाब ज्यादा लाता है जिससे पथरी की शिकायत में दोहरे लाभ होते हैं. रोजाना नियम से एक ग्लास अजवाइन का juice पिए, (रोजाना पिने से यह बनी हुई गुर्दे की पथरी को तोड़ने ख़त्म करने में मदद करता है) आप अजवाइन की चाय भी बना सकते हैं या चाय में अजवाइन डालकर भी सेवन कर सकते हैं.

9.पथरी दर्द में पानी का सेवन ज्यादा करें Pathri dard me pani ka sevan jyada kere

पथरी को मिटाने के लिए जरुरी है की आपको पेशाब बहुत आये, और आपके शरीर में तरलता बनी रहे ताकि अब आगे से ना तो पथरी बनने लगे और बनी हुई पथरी भी मिटने लगे. इसके लिए आप तरल चीजों का ज्यादा सेवन करे.

10.पथरी में करेले का इस्तेमाल करें Pathri me kerele ka istemal kere

करेले में मैग्नेसियम और फास्फोरस नामक तत्व होते हैं जो की पथरी बनने से रोकते है ओर बनी हुई पथरी को मिटाने में मदद करती हैं. इसके साथ ही यह शरीर का खून साफ करता है, और भी बहुत से लाभ देता है. इसका आप juice के रूप में सेवन करे, रोजाना एक ग्लास ओर एक कप करेले का juice पिए इसका का सेवन आप सब्जी के रूप में भी कर सकते हैं.

11.पथरी का केले से इलाज Pathri ka kele se ilaj

पथरी के लिए केले खाना भी फायदेमंद माना जाता हैं क्योंकि केले में विटामिन बी 6 होता है. और यह विटामिन पथरी बनाने वाले क्रिस्टल को पथरी बनाने से रोकता है और बनी हुई पथरी को तोड़ने में मदद करता है. गुर्दे की पथरी को मिटाने के लिए हमें 100-150 मिलीग्राम विटामिन बी 6 की जरुरत होती हैं. इसके लिए सुबह, दुपहर, शाम को केले खाये.

12.पथरी का प्याज़ के जरिये इलाज Pathri ka pyaz ke jeriye ilaj

अभी फ़िलहाल में हुई एक शोध के मुताबिक प्याज भी गुर्दे की पथरी के इलाज के लिए बहुत फायदेमंद होता है. अगर आप रोजाना सुबह उठने के बाद खाली पेट 70 ग्राम प्याज का juice पियेंगे तो यह आपकी जमी हुई पथरी को मिटा देगा. इसके साथ ही प्याज का उपयोग आप सलाद और प्याज की सब्जी बनाकर भी कर सकते हैं. ऐसा करने से आपको दुगुने लाभ होंगे.

13.पथरी का मेडिसिन द्वारा इलाज Pathri ka medicine dwara ilaj

बहुत से लोगों को पथरी की शिकायत ख़त्म होने पर कुछ दिनों बाद वापस से हो जाती है. इसलिए आपको पथरी दुबारा न बने इसके लिए पथरी के लिए दवा का उपयोग करना चाहिए और यह दवा है “CHINA 1000 “ यह मेडिसिन आपके शरीर में कभी भी पथरी नहीं बनने देगी. यह Homeopathy दवा है, इसको सिर्फ एक ही दिन लेना होता है.

इसका सेवन इस तरह से किया जाये – सुबह और शाम के समय 3-3 अपनी जीभ पर डालकर पिले. इसका सेवन भविष्य में कभी भी किडनी स्टोन की प्रॉब्लम नहीं होने देगा.

14.पथरी और मूत्राशय Pathri aur urine

मूत्राशय की पथरी, गुर्दे की पथरी, पित्त की पथरी आदि सभी तरह की पथरी के लिए योगासन बहुत फायदेमंद होते है. यह पथरी को बाहर निकालने का प्राकृतिक उपाय है, इसके साथ योग से पथरी के दर्द में भी आराम मिलता है.

15.पथरी का योगासन से इलाज Pathri ka yogasan se ilaj

बाबा रामदेव बताते हैं की पथरी के लिए प्राणायाम करना बहुत लाभदायक होता है. वह कहते हैं अगर किसी तरह का पथरी का रोगी रोजाना नियमित प्राणायाम करेगा तो उसे पथरी की शिकायत नहीं होगी और जो पहले से ही पथरी के रोगी हैं उनको भी पथरी से छुटकारा मिलेगा.

निम्न योगासन से इलाज ऐसे करें.

1.भस्त्रिका प्राणायाम

2.अनुलोम विलोम प्राणायाम

3.उष्ट्रासन योग

4.बालसाना योग

गुर्दे की पथरी का घरेलु इलाज Liver ki pathri ka gharelu ilaj

गुर्दे की पथरी के लिए कुछ राम बन उपाय इस प्रकार से है. पथरी का इलाज करने के लिए आप नारियल पानी का सेवन भी कर सकते हैं. यह भी एक तरल पदार्थ है. इसके साथ ही इसमे पथरी दूर करने वाले पदार्थ होते हैं. इसलिए रोजाना इसका सेवन करे लाभदायक रहेगा.

1.मिश्री दो चम्मच, बड़ी इलाइची के 15 दाने, एक चम्मच खरबूजे के बीज की गिरी को एक ग्लास पानी में अच्छे से घोल लें. इसके बाद इसका सेवन करे. सुबह और शाम को रोजाना नियमित रूप से इसको पिए पथरी का उपचार होगा.

2.अनार पेशाब से सम्बंधित सभी समस्याओं में बहुत फायदेमंद होता है. इसका उपयोग आप juice के रूप में कर सकते है या बिना juice के भी सेवन कर सकते हैं.

3.पथरी निकालने के लिए के लिए आयुर्वेदिक इलाज – पके हुऐ जामुन खाने से भी पथरी ख़त्म होती है.

4.आवले के चूर्ण को मूली की साथ रोजाना सुबह के समय खाये, आवला पेशाब से सम्बंधित सभी बिमारियों में बहुत फायदे देता हैं.

5.चीनी और जीते को बराबर मात्रा में अच्छे से पीसकर ठन्डे पानी में मिलाकर सेवन करने से पथरी के रोग में लाभ होता है . यह आयुर्वेदिक देसी घरेलु नुस्खे में से एक हैं.

6.शुद्ध और ताज़ा तुलसी के पत्तों का Juice पिने से भी पथरी में लाभ होता हैं (पथरी के घरेलु इलाज व उपाय) गर्मी के दिनों में पथरी के लिए देसी घरेलु उपाय आजमाए, रोजाना नारियल पानी पिए, तरबूज खाये, खीर खाये, पपीता खाये और भरपेट पानी पिए.

7.पथरी के लिए जरुरी हैं की आपका पाचन तंत्र पूरी तरह से मजबूत हो ताकि वह हमारे द्वारा खाई गई सभी चीजों को अच्छे से चबा सके.

8.कमजोर पाचन तंत्र भी पथरी होने का कारण होता है.

9.दिन में 2-3 बारे रोजाना निम्बू पानी पिने से पथरी में तुरंत लाभ होता हैं

10.रोजाना केले खाये यह भी लाभ देते हैं

11.रोजाना किसी भी रूप में प्याज का सेवन करना बिलकुल न भूले

12.अगर आप रोजाना करेले का उपयोग नही कर सकते तो सप्ताह में 2-3 तो इसका उपयोग जरूर करें

13.सुबह खाली पेट Aloevera का juice पिने से भी पथरी रोग के इलाज में लाभ होता हैं.

14. 2 ग्लास पानी में आधा-आधा कप सौंफ, मिश्री और सुख धनिया मिला लें और इसे रात भर पानी में भिगोये हुई छोड़ दें. सुबह इसे छानकर पिले. ऐसा करने से पथरी का उपचार होता हैं.

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!