बवासीर क्या होता है

बवासीर क्या होता है What is Hemorrhoids, bawasir ka ilaj

बवासीर वैसे तो कहने को एक बहुत ही छोटा सा शब्द है, लेकिन ये आज के दौर मैं लोगो के लिए एक बेहद गंभीर समस्या बनती जा रही है. जब ये लोगो को होती है तो बड़ा की कस्ट देती है. इसमें मलाशय के आस पास की सभी नशो मैं घंभीर सूजन आ जाती है.

जिस कारण से अत्यधिक दर्द होता है. ये दर्द कभी कभी असहनीय हो जाता है. जिस कारण से लोगो का सही ढंग से उठना बैठना भी मुश्किल हो जाता है. बवासीर आम तौर पर दो प्रकार का होता है. पहला जिसे हम खुनी बवासीर कहते है. इसमें मस्सो मैं खून बहता रहता है और ये मस्से ब्लैक यानी की काळा रंग के हो जाते है.

इन्हे भी जाने…. पिंपल्स को हटाने के घरेलू नुश्खे

इन्हे भी जाने…. गंजेपन का इलाज या गंजेपन रोकने के उपाय

इन्हे भी जाने…. थाईरायड ग्रथि से सम्बंधित रोग

इन्हे भी जाने…. शीघ्रपतन के घरेलू नुस्खे

जिस कारण से दर्द यानी की पैन अत्यधिक मात्रा मैं होता है. दूसरे प्रकार का बवासीर बड़ी बवासीर मैं मस्सो मैं खुजली और सूजन हो जाती है. जिससे दर्द बहुत तेज बढ़ जाता है. इस समस्या मैं आप ज्यादा देर तक कही भी बैठ नहीं पाते है. ये बहुत ही तक्लीफपूर्ण होता है.

इन्हे भी जाने…. प्रेगनेंसी मैं कोंन सी एक्सरसाइज करे

इन्हे भी जाने…. Kaan ya ears dard ka gherelu upchar

बवासीर दूर करने के घरेलु नुस्खे Bwasir dur karne ke gharelu nuskhe

इन नुस्खों से आप जल्द ही आसानी से अपनी बवासीर की समस्या मैं आराम पा सकते है. जो की निम्न प्रकार है.

  1. करीब दो लीटर मट्ठा लेकर उसमे 50 ग्राम पिसा हुआ जीरा और थोडा सा सेंधा नमक जरुर मिला दें. पूरे दिन पानी की जगह यह मट्ठा ही पियें. चार-पाँच दिन तक यह प्रयोग करें, मस्से काफी ठीक हो जायेंगे.
  2. खूनी बवासीर में एक नींबू को बीच में से काटकर उसमें लगभग 4-5 ग्राम कत्था पीसकर डाल दीजिए. इन दोनों टुकड़ों को रात में छत पर खुला रख दीजिए. सुबह उठकर नित्य क्रिया से निवृत होने के बाद इन दोनों टुकड़ों को चूस लीजिए. पांच दिन तक इस प्रयोग को कीजिए. बहुत फायदा होता है.
  3. एक पके केले को बीच से चीरकर उसके दो टुकडे कर लें फिर उस पर कत्था पीसकर छिडक दें, इसके बाद उस केले को खुले आसमान के नीचे शाम को रख दें,सुबह को उस केले को शौच करने के बाद खालें. एक हफ़्ते तक लगातार इसको करने के बाद भयंकर से भयंकर बवासीर भी समाप्त हो जाती है.
  4. बवासीर की समस्या होने पर आंवले के चूर्ण को सुबह-शाम शहद के साथ लेने से भी जल्दी ही फायदा होता है.
  5. नीम के छिलके सहित निंबौरी के पावडर को प्रतिदिन 10 ग्राम मात्रा में रोज सुबह बासी पानी के साथ सेवन करें, लाभ होगा. लेकिन इसके साथ आहार में घी का सेवन आवश्यक है.
  6. जीरे को पीसकर मस्सों पर लगाने से भी फायदा मिलता है, साथ ही जीरे को भूनकर मिश्री के साथ मिलाकर चूसने से भी फायदा मिलता है.
  7. छोटी पिप्पली को पीस कर उसका चूर्ण बना ले, इसे शहद के साथ लेने से भी आराम मिलता है|
  8. एक चम्मच आंवले का चूर्ण सुबह शाम शहद के साथ लेने से भी बवासीर में लाभ प्राप्त होता है.
  9. नीम का तेल मस्सों पर लगाने से और 4- 5 बूँद रोज़ पीने से बवासीर में बहुत लाभ होता है.
  10. सुबह खाली पेट मूली का नियमित सेवन भी बवासीर को खत्म कर देता है.
  11. 50 ग्राम बड़ी इलायची को तवे पर रखकर भूनते हुए जला लीजिए. ठंडी होने के बाद इस इलायची को पीस लीजिए. प्रतिदिन सुबह इस चूर्ण को पानी के साथ खाली पेट लेने से बवासीर में बहुत आराम मिलता है.
  12. नियमित रुप से गुड के साथ हरड खाने से भी बवासीर में जल्दी ही फ़ायदा होता है.
  13. नागकेशर, मिश्री और ताजा मक्खन इन तीनो को रोजाना बराबर मिलाकर 10 दिन खाने से बवासीर में बहुत आराम मिलता है.
  14. जमीकंद को देसी घी में बिना मसाले के भुरता बनाकर खाएँ शीघ्र ही लाभ मिलेगा.
  15. एक चाय का चम्मच धुले हुए काले तिल ताजा मक्खन के साथ लेने से भी बवासीर में खून आना बंद हो जाता है.
  16. बवासीर की समस्या होने पर तरल पदार्थों का अधिक से अधिक सेवन करें.

इन्हे भी जाने…. सुंदरता पाने के घरेलू उपचार

इन्हे भी जाने…. सांवली त्वचा निखारने के घरेलू नुस्खे

इन्हे भी जाने…. रोके अपनी बढ़ती हुई उम्र की रफ़्तार को

इन्हे भी जाने…. नाखूनों को सुंदर बनाने के घरेलू उपचार और उपाय

बवासीर होने के कारण Bawasir hone ke karan

बवासीर होने के निम्न कारण हो सकते है.

  1. ज्यादा तला भुना खाना खाने से बवासीर हो सकता है.
  2. जो लोग ज्यादातर घर से बहार खाना कहते है , उन्हें ये जल्दी होता है. क्युकी उसमे अत्यधिक मात्रा मैं गन्दा आयल प्रयोग किया जाता है.
  3. जंक फ़ूड, पिज़्ज़ा, बर्गर इत्यादि खाने से भी आपको बवासीर की समस्या हो सकती है.
  4. गंदे टॉयलेट प्रयोग करने से भी , ये आसानी से आपको लग सकता है. क्योकि गंदे टॉयलेट मैं कीटाणुओं का होना संभावित होता है. जिससे की ये बीमारी आपको लग सकती है. इसलिए सदा ही साफ़ एवं सुथरे टॉयलेट का ही इस्तेमाल करे.
  5. जो लोग बिना हाथ साफ़ किये ही खाना खा लेते है, उनमे भी ये समस्य उत्पन्न हो जाती है. क्योकि हाथो से कीटाणु जल्दी ही हमारे शरीर मैं प्रवेश कर जाते है.

जो लोग इन सभी बातो का ख़ास ख्याल रखते है, उन्हें बवासीर की समस्या नहीं हो पाती है. इसलिए सदा ही अपने आप को स्वच्छ रखे. साथ ही अपने खान पान का भी ख़ास तरीके से ध्यान रखे. इन सभी नुस्खों को इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर की भी सलहा ले सकते है.

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!