Author: happysoch

प्लेग के कारण लक्षण और इलाज

प्लेग के कारण लक्षण और इलाज plague ke karan lakshan aur ilaj hindi me प्लेग एक गंभीर बीमारी होती है, जिसके बारे में हम आज आपको सम्पूर्ण जानकारी देने जा रहे है. प्लेग की बीमारी “येरसीनिया पेस्टिस” नामक एक बैक्टीरिया के संक्रमण से होती है. अगर संक्रमण की शुरुआत में ही इलाज नहीं किया जाए

अपने आप पेशाब निकलने की समास्या होना

अपने आप पेशाब निकलने की समास्या होना peshab ki bimari ilaj hindi me कभी कभी ऐसा हो जाता है की इंसान का यूरिन ऑटोमेटिक अपने आप ही निकलने लग जाता है. ये भी एक रोग ही होता है और इसका इलाज कोई परेशानी भरा नहीं होता है, बल्कि आसान सा ही होता है. जिसके बारे

पेट दर्द का इलाज कैसे करें

पेट दर्द का इलाज कैसे करें pet dard ka gharelu ilaj पेट दर्द आज के समय मैं सभी को होने वाली एक गंभीर समस्या बन चुकी है. हमे अपने पेट को बड़ी ही सावधानी से सुरक्षित रखना चाहिए. पेट दर्द के पीछे मामूली कारण हो सकते है और गंभीर समस्या भी जो चिकित्सा के बाद

पथरी का घरेलू उपाय

पथरी का घरेलू उपाय pathri ka gharelu upay हम आपको पथरी रोग की सम्पूर्ण जानकारी देंगे. पथरी रोग बहुत ही तेजी से फेल रहा है. वैसे तो ये कोई ख़ास बीमारी नहीं है, लेकिन फिर भी हमे सतर्क रहना चाहिए. पथरी शरीर के किसी बह बाग़ मैं हो सकती है. ऐसा नहीं है की ये

डिम्ब ग्रंथियों की नसों में दर्द होना

डिम्ब ग्रंथियों की नसों में दर्द होना dimb granthiyo ki naso me dard hona dard ka ilaj hindi me डिम्ब ग्रंथियों की नसों में दर्द हो तो इसका इलाज तुरंत ही कर लेना चाहिए. यह एक प्रकार का स्नायविक दर्द होता है. इस रोग के होने पर दर्द डिम्ब-ग्रंथियों में एकाएक पैदा होकर इसके चारों

पेट गैस समस्या का निवारण

पेट गैस समस्या का निवारण pet gas samasya ka nivaran pet ki gas ko kese dur kere पेट में गैस का बनना बहुत ही आम होता है. गैस किसी भी गलत खान पान या फिर कुछ ज्यादा खा लेने से भी बन जाती है. हमे सदा ही ये ध्यान में रखना चाहिए की हमेशा साफ़

डिम्बकोष के रोग

डिम्बकोष के रोग dimbkosh ke rog mahila rog ka ilaj महिलाओ में होने वाले डिम्बकोष के रोगो के बारे में पूरी जानकारी देंगे. क्युकी कभी कभी इनमे भी बीमारी हो जाती है. इसलिए इनका इलाज होना बहुत ही जरूरी होता है. 1.डिम्बकोष का अपने स्थान से हट जाना डिम्बकोष के अपने स्थान से हट जाने

डिम्ब-ग्रंथियों की जलन के लक्षण

डिम्ब ग्रंथियों की जलन के कारण और इलाज dimb granthiyo ki jalan ke karan aur ilaj mahila ke rog aur ilaj डिम्ब ग्रंथियों की जलन का इलाज आपको तुरंत ही कर लेना चाहिए. क्योकि यदि ये रोग बढ़ जाये , तो आपको बहुत ही ज्यादा समस्या हो सकती है. इसलिए आज हम आपको कुछ मेडिसिन

बच्चे के जन्म के बाद स्तनों के रोग

बच्चे के जन्म के बाद स्तनों के रोग child born ke baad breast ke rog mahilao ke rog aur ilaj hindi me जब महिला बच्चो को जन्म देती है , तो उन्हें कई प्रकार की परेशानिया झेलनी पड़ती है. जिस कारण बोर्न बच्चे को माँ का दूध नहीं मिल पता है. इसलिए उन्हें अपने स्तनों

रसोली का इलाज

स्तनों में रसोली की समस्या होना breast me rasoli ki samasya ka hona rasoli ka ilaj hindi me रसोली के बारे में तो आप जानते ही होंगे, ये एक प्रकार का रोग होता है. जो की किसी को भी हो सकता है. रसोली एक गांठ की तरह होता है. ये महिलाओ के स्तनों में भी

वातायनासपन करने की विधि

वातायनासपन करने की विधि vataynaspan yog karne ke fayde वातायनासपन आसन करने के बहुत से फायदे होता है, जिनमे से एक होता है बढ़ती हुई कमर यानि की मोटापा को कम करना. जी हां मोटापा कम करना सबकी बात नहीं होती है. ये आसानी से बढ़ तो जाता है, लेकिन इसे कम करना बहुत ही

निम्बू है गुणों से भरपूर

निम्बू है गुणों से भरपूर Nimbu hai guno se bharpur nimbu ke fayde hindi me निम्बू होता है गुणों की खान और साथ ही साथ इसके उपायों से आप अपने जीवन में बहुत कुछ पा सकते है. नींबू स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है. ये बात तो सभी जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं

विपरीत नौकासन योग करने से होते फायदे

विपरीत नौकासन योग करने से होते फायदे viprit nokasan yog ke fayde नौकासन को पीठ के बल लेटकर किया जाता है, जबकि विपरीत नौकासन को पेट के बल. इसमें शरीर की आकृति नौका समान प्रतित होती है, इसीलिए इसे विपरीत नौकासन कहते है. आसन विधि Aasan vidhi 1.यह आसन भी पेट के बल लेटकर किया
error: Content is protected !!